Header Ads

अगर आप विंडोज एक्सपी इस्तेमाल करते हैं तो सावधान हो जाएँ|

सावधान हो जाएये आने वाले वक़्त में विंडोज एक्सपी आपरेटिंग सिस्टम (ओएस) का इस्तेमाल करने वालों के कंप्यूटर या लैपटॉप पर हैकिंग का खतरा बढ़ जायेगा ।दरअसल, विंडो सॉफ्टवेयर बनाने वाली कंपनी माइक्रोसॉफ्ट ने अगले वर्ष 8 अप्रैल 2014 से विंडोज एक्सपी ओएस के सपोर्ट में सेवाएं बंद करने की घोषणा की है।


विंडोज एक्सपी का सपोर्ट बंद करने का मतलब यह है कि अब माइक्रोसॉफ्ट इस ओएस के लिए सिक्योरिटी अपडेट या आनलाइन तकनीकी सपोर्ट मुहैया नहीं कराएगी।इससे बाजार में नए सिस्टम में तो विंडो एक्पी आना पूरी तरह से बंद हो जाएगा।लेकिन जिन लोगों के पास पुराने पीसी और लैपटाप पर विंडो एक्सपी लोड है उन्हें इसे तत्काल अपग्रेड कराने की जरूरत पड़ेगी। सर्टइन ने लोगों को अप्रैल, 2014 के पहले अपने कंप्यूटर सिस्टम को अपग्रेड करने की सलाह दी है। माइक्रोसॉफ्ट ने अगस्त, 2001 में विंडोज एक्सपी ओएस जारी किया था। इस ओएस के नए संस्करण को विंडोज एक्सपी सर्विस पैक-3 के नाम से जाना जाता है। माइक्रोसॉफ्ट विंडोज विस्टा (नवंबर, 2006), विंडोज-7 (जुलाई, 2009) और विंडोज-8 (अगस्त, 2012) आपरेटिंग सिस्टम जारी कर चुका है।अगर आप भी विंडोज एक्सपी आपरेटिंग सिस्टम का इस्तेमाल अपने कंप्यूटर में करते हैं तो उसका मोह छोड़ दीजिये और अपने कंप्यूटर में विंडो 7 या विंडो 8 इंस्टाल करवा लीजिये । 


 

No comments