Header Ads

क्या आप जानते हैं संसद भवन में 420 नंबर की सीट नहीं है

दुनियाँ में बहुत सी ऐसी बातें हैं जिनके बारे में हमें जानकारी नहीं है ! कुछ ajab-gajab कानून हैं तो कुछ ajab-gajab रीती रिवाज़ हैं ! आज मैं आप को कुछ ऐसे ही अजब गजब बातों के बारे में बताऊंगा जिनपर कभी आप का ध्यान नहीं जाता होगा ! हालाँकि आप इन अजब गजब बातों से रोज़ दो-चार होते हैं !



संसद भवन में भी 420 नंबर की सीट नहीं है

शायद आप ने कभी ध्यान नहीं दिया होगा की ,होटलों में 420 नंबर का कमरा नहीं होता है और ये सिर्फ अपने देश भारत में ही नहीं बल्कि दुनिया के और भी बहुत सारे देशों में होता है ! भारत में 420 नंबर को धोखाधड़ी और फ्रॉड का प्रतिक माना जाता है क्योकि भारतीय दंड संहिता के अनुसार, बेईमानी या धोखाधड़ी के मामले में धारा-420 लगाई जाती है, इसलिए लोग इस नंबर के इस्तेमाल से बचते हैं ! यहाँ तक की भारत के संसद भवन में भी 420 नंबर की सीट नहीं है ! दुनिया के कई देश में लोग 20, अप्रैल को शाम 4.20 मिनट पर अफीम और भांग जैसे नशीले पदार्थों का सेवन कर के सरकार के उस फैसले का विरोध करते हैं जिसमें अफीम, भांग आदि जैसे नशीले पदार्थों को बैन किया गया हो !
420 numbers

सिनेमा घर की अजब-गजब बातें 

आप में से अकसर कई लोग मूवी देखने सिनेमा घर या थियेटर में जाते होंगे ! लेकिन कभी आप ने ध्यान नहीं दिया होगा की सिनेमा घर में ABCDEFGH के नाम से बैठने की सीटों का row होता है , लेकिन I और O नाम के सीटों का raw नहीं होता है ! दरअसल, अंग्रेजी के अक्षर I और O, देखने में संख्या 1 और 0 की तरह लगते हैं ,इसलिए किसी तरह की कोई कन्फ्यूजन न हो I और O नाम के सीटों की row नहीं रखी जाती है !


हमारे देश में कोई भी नई फिल्म सिर्फ शुक्रवार के दिन ही रिलीज होती है और इसकी शुरुवात मुगले-ए-आजम नाम के फिल्म से हुई थी ! मुगले-ए-आजम भारतीय फिल्म इतिहास की सबसे सफल फिल्म मानी जाती है !
शनिवार और रविवार को ज़यादातर ऑफिस बंद रहते हैं पुरे देश में छुट्टी का माहौल रहता है इसलिए फिल्मों को शुक्रवार को रिलीज किया जाता है ताकि लोग अगले दो दिनों में इस फिल्म को देख सके और फिल्म अच्छा कारोबार करे !

No comments