ये railway quota लगा कर आप भी करा सकता है अपना टिकट कन्फर्म

0

भारतीय रेल को अगर भारत की जीवन रेखा कहा जाये तो इसमें कोई दो राये नहीं है.आज के वक़्त में बिना रेल के जीवन जीने की कल्पना करना बहुत मुश्किल है क्यों की आज हर आदमी चाहे आम आदमी हो या खास वो यात्रा के लिए जयादा तर भारतीय रेल पर ही निर्भर है.आज के इस पोस्ट में हम railway quota की बात करेंगें.भारतीय रेल के द्वारा यात्रा करने में सबसे बड़ी चुनौती रेल में आरक्षण की होती है.

जब आप किसी एक जगह से दुसरे जगह यात्रा करते हैं तो सम्बंधित रेल गाड़ी में आप को अपना सिट आरक्षित करवाना पड़ता है और यही सबसे मुश्किल काम है जब आप टिकट काउंटर पर जाते है तो पता चलता है की जिस तारीख को आप अपना टिकट बुक करना चाहते हैं उसदिन किसी भी ट्रेन में कोई भी सिट खाली नहीं है और फिर मज़बूरी में आप को अपनी यात्रा की तारीख बदलनी पड़ती है या फिर परेशानी उठा के बिना आरक्षित सिट के सफ़र करना पड़ता है.

लेकिन शयेद बहुत कम लोगों को ये मालूम है की bhartiye rail ticket आरक्षण में कोटा का प्रवधान है.कोटा तो हर जगह लगता है.चाहें एजुकेशन हो या रिजर्वेशन कोटे के बिना काम नहीं चलता.आईये देखते हैं की Train reservation के लिए कितने तरह के railway quota लगाए जाते हैं और इनका लाभ कौन उठा सकता है.

railway quota

bhartiye railway में उपयोग होने वाले railway quota

HP: Handicap railway quota

अगर आप फिजिकली हैंडिकैप हैं तो यह कोटा आपके लिए है.इस कोटे के तहत वो लोग जो विकलांग होते हैं अपनी टिकट बुक करा सकते हैं.इसके लिए उन्हें स्पेशल सीट दी जाती है.ऐसे लोगों की टिकट जल्दी क्लियर होती है.

LD : Lady’s railway quota

अब नाम से तो आप समझ ही गए होंगे की हम महिलाओं को दिए जाने वाले स्पेशल कोटे की बात कर रहे हैं.यह कोटा सबसे ज्यादा प्रचलन में है.महिलाओं के लिए अगर सीट बुक करानी हो तो आप लेडीज कोटा का इस्तेमाल कर सकते हैं.ऐसा होने पर अगर आपकी टिकट वेटिंग लिस्ट में है तो सिर्फ लेडीज कोटे के तहत ही क्लियर की जाएगी.

DF: Defense railway quota

भारतीय डिफेंस सर्विसेज में काम करने वाले सभी लोगों को यह कोटा दिया जाता है.पुलिस,आर्मी,नेवी,एयरफोर्स,सीआरपीएफ जैसी कोई भी स्पेशल फोर्स इस कोटे का खास फायदा उठा सकती है.

FT: Foreign Tourist railway quota

विदेशों से आए लोगों को ये कोटा दिया जाता है.इसके लिए उन्हें अपना पासपोर्ट,वीजा,और उनके देश का आईडी देना पड़ता है.

DP: Duty pass railway quota

यह वो कोटा है जिसमें रेल कर्मचारियों को सुविधाएं दी जाती हैं.इस कोटे का लाभ सिर्फ रेल्वे कर्मचारी ही ले सकते हैं.

PH: Parliament House railway quota

अब इसका नाम ही बता रहा है कि यह कोटा किसे दिया जाता है.इस कोटे के तहत अपने देस के नेताओं को ट्रेन में कन्फर्म टिकट दिया जाता है.

RS: Road side railway quota

बड़े स्टेशनों के बीच के ऐसे स्टेशन जो कंप्यूटराइज्ड नेटवर्क से न जुडे़ हों तब उन्हें रोड साइड कोटे में रख कर टिकट रिजर्व किए जाते हैं.इनमें वेटिंग लिस्ट भी होती है.

OS: Out station railway quota

अपने घर से कहीं बाहर से अगर आप रिजर्वेशन करा रहे हैं तो यह कोटा लग सकता है.इसका प्रयोग ज्यादातर रेल्वे के लोग लेते हैं.

HQ: High official or headquarter railway quota

यह कोटा जज,आर्मी वालों जैसे हाई रैंक के ऑफिसर्स को दिया जाता है.इसका फायदा उठाने के लिए किसी भी बड़ी रैंक के अधिकारी को अपना आईडी प्रूफ दिखाना जरूरी है.

SS: Senior citizen railway quota

इस कोट के लिए आपके पास सीनियर सिटीजन का सर्टिफिकेट होना जरूरी है.इस कोटे के तहत बुजर्ग लोगों को पहले सीट दी जाती है.सीनियर सिटीजन कोटा में टिकट के दाम भी कम होते है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here