मेरे ब्लॉग hindi me पर आप का स्वागत है. 2 दिन बचे हैं football world cup शुरू होने में दुनियाभर के फुटबॉल प्रेमियों की धड़कनें बढ़ती जा रही है सभी अपने फेवरेट खिलाड़ियों को देखने के लिए बेचैन हुए जा रहे हैं.जब कोई टीम जीती है या कोई खिलाड़ी गोल करता है तो पूरी दुनिया उस टीम और उस खिलाड़ी की तारीफ करती है.लेकिन हम भूल जाते हैं कि उस टीम को एक टीम बनाने के पीछे बिहाइंड द सीन एक व्यक्ति है जो सभी खिलाड़ियों को एक साथ जोड़ कर एक टीम बनाता है और वह होता है football coach.

football coach

किसी भी टीम का मैनेजर master of the game होता है.मैनेजर या कोच अपने खिलाड़ियों को प्लानिंग स्ट्रेटेजी बनाता और बताता है जिसे खिलाड़ी मैदान पर उतरकर खुद को और अपनी टीम को चैंपियन बनाते हैं.किसी भी टीम में चाहे जितने टैलेंटेड खिलाड़ी हो लेकिन बिना एक अच्छे मैनेजर के वह टीम कभी भी चैंपियन नहीं बन सकती, इसलिए किसी भी टीम के लिए एक अच्छे मैनेजर का होना बहुत जरूरी है.

football coach देसी हो या विदेशी

फुटबॉल के अलावा बाकी दूसरे तरह के खेलों में विदेशी कोच की भूमिका ज्यादा महत्वपूर्ण होती है या विदेशी मैनेजर को लोग ज्यादा महत्व देते हैं.फुटबॉल में कोच को मैनेजर भी कहते हैं.लेकिन फुटबॉल में विदेशी मैनेजर की अहमियत कम है.अभी तक कोई भी ऐसा विदेशी मैनेजर नहीं हुआ है जिसकी टीम वर्ल्ड चैंपियन बनी हो आज तक जितनी भी टीमों ने फुटबॉल वर्ल्ड कप जीती है या वर्ल्ड चैंपियन बनी है उन सारे टीमों के मैनेजर देसी ही थे. फुटबॉल वर्ल्ड कप 2018 में दुनिया भर से 32 टीमें हिस्सा ले रही हैं जिसमें से 20 टीमों के कोच देसी हैं जब कि सिर्फ 12 टीमों के कोच विदेशी है.

विदेशी football coach किसी टीम को चैंपियन क्यों नहीं बना सकते

दुनियाभर के विशेषज्ञों का मानना है कि एक विदेशी कोच या विदेशी football coach वर्ल्ड कप जैसे बड़े प्रयोजन में इसलिए नाकाम हो जाता है क्योंकि वह नई वर्किंग स्टाइल, स्ट्रैटजी परफॉर्मेंस के साथ टीम से जुड़ता है.football coach चाहता है कि खिलाड़ी बहुत तेजी से उसके प्लान के मुताबिक ढल जाए,लेकिन दोनों देशों के कल्चर और भाषा और व्यवहार के अलग होने के कारण मैनेजर और टीम के खिलाड़ियों के बीच तालमेल नहीं हो पाता है और अंत में इसका प्रभाव टीम के प्रदर्शन पर पड़ता है और नतीजा निराशाजनक होता है.

दुनिया के सबसे महंगे और सस्ते football coach

दोस्तों जैसा मैंने बताया आपको किसी भी टीम को जिताने में या वर्ल्ड चैंपियन बनाने में उसके कोच की बहुत महत्वपूर्ण भूमिका होती है.अगर किसी टीम के पास एक अच्छा कोच या मैनेजर ना हो तो वह टीम कभी वर्ल्ड चैंपियन नहीं बन सकती है.चाहे उस टीम के पास दुनिया के सबसे अच्छे खिलाडी ही क्यों ना हो. किसी भी टीम को fifa world cup winners बनाने के लिए एक best football coach का होना जरूरी है.

चार बार की fifa world cup winners जर्मनी के जोआकिम लोव दुनिया के सबसे महंगे फुटबॉल कोच हैं.इन्हें सालाना 30 करोड़ रुपए सैलरी मिलती है.दुनिया के सबसे सस्ते फुटबॉल कोच कोस्टा रिका के कोच आस्कर रेमिरेज है जिन्हें 2.7 करोड रुपए सालाना मिलते हैं.

एक ही मैनेजर ऐसा है जिस ने अब तक लगातार 2 world cup trophy जीता है उनका नाम है विटोरिया पोज्जो,इटली के इस फुटबॉल कोच ने अपनी टीम को 1934 और 1938 मे वर्ल्ड चैंपियन बनाया था, इसके बाद से आज तक कभी कोई ऐसा फुटबॉल कोच नहीं हुआ जिसने अपनी टीम को लगातार 2 world cup trophy जिताया हो.

Top 5 सबसे महंगे football coach

जोआकिम लोव – जर्मनी, सालाना 30 करोड़ रुपये
लियोनार्डो बाची – ब्राज़ील, सालाना 27 करोड़ रुपए
डिडियर डेसचेम्प्स – फ्रांस, सालाना 27 करोड़ रुपये
जूलेन लोपेतेगुई – स्पेन, सालाना 27 करोड़ रुपये
स्टानिस्लाव चेरचेसोव – रूस, सालाना 20 करोड़ रुपये

Top 5 football coach

जोआकिम लोव – जर्मनी के कोच हैं. fifa world cup 2014 में इन्होंने जर्मनी को वर्ल्ड चैंपियन बनाया था.पिछले 12 साल से ये जर्मनी के football coach हैं.सबकी नजरें इस बार इन पर टिकी हुई है.

जूलेन लोपेतेगुई – सन 2016 में इनको स्पेन फुटबॉल टीम का कोच नियुक्त किया गया.स्पेन के फुटबॉल टीम को इन्होंने वर्ल्डकप के लिए तैयार किया है.

डिडियर डेसचेम्प्स – ये फ्रांस के football coach हैं.इनकी सबसे अच्छी बात ये है कि ये 1998 विश्व कप के चैंपियन टीम के सदस्य भी रह चुके हैं.पिछले वर्डकप में इनकी टीम क्वाटर फाइनल तक पहुँची थी.

लियोनार्डो बाची – 20 जून 2016 से ये ब्राज़ील फुटबॉल टीम के कोच है.इनको टिटे के नाम से भी जाना जाता है.जब से इन्होंने ब्राज़ील टीम के कोच का पदभार संभाल है तब से ब्राज़ील ने अपने 20 मैचों में से 19 मैच जीते हैं और सिर्फ एक मैच में हार का सामना किया है.फुटबॉल वर्ल्डकप 2018 में पूरी दुनिया की नजरें इन पर टिकी हुई है.

जॉर्ज सम्मपोली – इन्होंने 2017 में अर्जेंटीना के कोच का पदभार संभाला और इनके कोच रहते हुवे अर्जेंटीना ने 11 में से 6 मैचों में जीत हासिल की है जब कि 3 मैच ड्रा हो गए.

so आज के पोस्ट में हमने दुनिया के top 5 football coach के बारे जाना.आप ये समझ चुके होंगे की football coach किसी football team के लिए कितना महत्वपूर्ण होता है.best football coach के बिना कोई भी टीम world champion नहीं बन सकती है.अगर कोई football team fifa world cup जितना चाहती है    तो उसके पास दुनिया का सबसे अच्छा football coach का होना ज़रूरी है.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here