Indian railway rules in hindi

Share:
भारतीय रेल अपनी यात्रियों की सुविधा के लिए हमेशा कुछ न कुछ नया करने का प्रयत्न करते रहती है.भारतीय रेल ने Real Time Refund Status चेक करने के लिए एक वेबसाइट बनाई है जिसके जरिए यात्री अपने रिफंड की स्थिति अपने घर बैठे कंप्यूटर या मोबाइल द्वारा इंटरनेट की मदद से चेक कर सकते हैं.




इससे पहले रेल यात्रियों को अपना Refund status देखने और जानने के लिए Railway counter के चक्कर लगाने पड़ते थे.लेकिन रेलवे के इस नई सुविधा के अनुसार अब यात्रियों को Railway counter के चक्कर लगाने की जरूरत नहीं है और ना ही काउंटर पर लगने वाली लंबी लंबी लाइनों में लगने की जरूरत है.
rules

indian railway rules in hindi

इंडियन रेलवे ने जो अपनी नई वेबसाइट बनाई है इस वेबसाइट पर rail yatri अपने बुक कराए गए टिकट का PNR टाइप करके देख सकते हैं कि उनके रिफंड की स्थिति क्या है? उनका रिफंड मंजूर हुआ है या नहीं?अगर मंजूर हो गया है तो चेक किया ड्राफ्ट तैयार हुआ है या नहीं?अगर चेक और ड्राफ्ट तैयार हो गया है तो उनके पते पर भेजा गया है कि नहीं? इसमें वेबसाइट के द्वारा तत्काल टिकट और पहले से बुक कराया गया टिकट दोनों की ही जानकारी मिलेगी.

Time status देखने का तरीका

रेलवे के नए वेबसाइट पर रेल यात्री को अपना सिर्फ PNR नंबर डालना होगा जिसके बाद उनको उनके मतलब की पूरी जानकारी मिल जाएगी.रेलवे के इस नई वेबसाइट को सेंटर फॉर रेलवे इंफॉर्मेशन सिस्टम ने बनाया है.यह तकनीक उन यात्रियों की मदद करेगा जिन्हें टिकट काउंटर पर टिकट डिपाजिट रिसिप्ट के जरिए क्लेम देना पड़ता है.

Ticket deposit receipt क्या है

भारतीय रेल में यात्रा करने वाले किसी भी यात्री के द्वारा ट्रेन की टिकट रद्द करने के बाद मिलने वाली एक रसीद है जिसको Ticket deposit receipt कहा जाता है.इसी रसीद को दिखाकर टिकट के लिए खर्च किए गए पैसे जरूरी कटौती के बाद वापस लिए जाते हैं.
Ticket deposit receipt सिर्फ कैंसिल की गई टिकटों के लिए ही लिया जा सकता है.अगर किसी रेल यात्री का टिकट कंफर्म है तो वह ट्रेन चलने से 4 घंटे पहले अगर अपने टिकट को कैंसिल कराता है तभी वह टीडीआर के लिए आवेदन कर सकता है.अगर किसी यात्री का टिकट आरएसी में है तो वह ट्रेन चलने से 30 मिनट पहले तक अपना टिकट कैंसिल करवा सकता है और टीडीआर ले सकता है.



No comments