Internet Ki Sabse Darawni Baatein Hindi Me

Share:
HINDI ME BLOG के इस पोस्ट में मै आप को इंटरनेट पर उपलब्ध सबसे डरावनी चीज़ या Internet Ki Sabse Darawni Baatein के बारे में बताऊंगा.वैसे मुझे लगता है की इस सवाल का जवाब सब के लिए अलग अलग हो सकता है लेकिन मुझे जो इंटरनेट पर उपलब्ध सबसे डरावनी चीज़ लगती है वो मै आप को आज बताना चाहता हूँ.




इंटरनेट की प्राइवेसी सबसे डरावनी चीज है

Internet Ki Sabse Darawni Baatein-इन्टरनेट और मोबाइल के अनुभव को देखते हुवे मुझे इंटरनेट पर उपलब्ध सबसे डरावनी चीज़ "प्राइवेसी" लगती है.इन्टरनेट के वजह से आज हम सब की प्राइवेसी खतरे में पड़ती जा रही है.फेसबुक और ट्विटर जैसे सोसल साईट जिनका हम उपयोग अपने मोबाइल और कंप्यूटर में करते हैं ये हमारी प्राइवेसी को नुक्सान पंहुचा रहीं हैं.आज हम सब की लगभग सारी जानकारी इन वेबसाइट के पास उपलब्ध हैं जिनका उपयोग ये अपने लाभ के लिए करती हैं.

मोबाइल कंप्यूटर और इन्टरनेट की दुनिया में कई ऐसे एप्लिकेशन,सॉफ्टवेयर और वेबसाइट हैंं जो हमारा संपूर्ण ब्यौरा रखते है हम कहाँ जाते है, किस शहर में किस हॉटेल में रुकते है, कौन से फ़ोटो हमारी गैलरी में सेव है, किस के फ़ोन नंबर हमरे मोबाइल में सेव हैं,हम किस किस से बात करते हैं,हमें खाने में क्या पसंद है,हमारी आदते कैसी हैं ये सारी जानकारी आज थर्ड पार्टी के हाथ में है.जो लोग इन्टरनेट और स्मार्टफोन का उपयोग करते हैं उनकी ज़िन्दगी खुली किताब की तरह हो गई है.आप कभी अपने मोबाइल में इंस्टाल किसी एप के पॉलिसी को पढ़ कर देखिएगा वहां साफ़ साफ़ लिखा होता है की वो एप जब चाहे आप के मोबाइल गैलरी को देख सकता है,फ़ोन बुक को देख सकता है या आप के मैसेज को पढ़ सकता है.बहुत सारे मोबाइल एप तो आप के कैमरा और स्पीकर को भी बिना आप के मर्ज़ी के ओपन कर सकते हैं.इसलिए मुझे लगता है की ये हम सभी के लिए ये इन्टरनेट की सबसे डरावनी चीज है.

Darawni Baatein

इंटरनेट पर उपलब्ध सबसे डरावनी चीज़ "ट्रोलिंग"

इन्टरनेट की दूसरी सबसे डरावनी चीज़ जो मुझे लगती है वो है "ट्रोलिंग".इन्टरनेट और सोसल साईट की दूसरी सबसे ख़राब और डरावनी चीज़ है ये ट्रोलिंग.इसमें इन्टरनेट और मोबाइल यूजर बिना सोचे समझे किसी के बारे में अफवाहों से प्रेरित हो कर कुछ भी लिख और पढ़ देते हैं.Whatsapp,Facebook और Twitter जैसे सोशल साईट पर सबसे अधिक ट्रोलिंग की घटनाये होती हैं.मैंने देखा है बड़ी बड़ी सेलिब्रिटी तक इसके शिकार हो चुके हैं और कुछ लोग तो ट्रोलिंग से इतने परेशान और त्रस्त हो जाते हैं की वो सोशल साईट को हमेशा के लिए छोड़ देते हैं या अपने अकाउंट को प्राइवेट मोड में कर लेते हैं.बहुत सारे यूजर और लोगों का मानना है की दुनिया भर की इंटरनेट कम्पनियों और सोशल मीडिया साइट्स को अपनी सुरक्षा व्यवस्था मजबूत करना चाहिए ताकि ऐसे ट्रोलर्स की जल्दी से जल्दी पहचान करके उनके खिलाफ कार्यवाही की जा सके.

तो दोस्तों आप को इंटरनेट पर उपलब्ध सबसे डरावनी चीज़ की जानकारी वाली ये पोस्ट कैसी लगी कृपया कमेन्ट कर के ज़रूर बताएं.अगर आप के मन में Internet Ki Sabse Darawni Baatein को लेकर कोई सवाल है तो आप कमेन्ट कर के पूछ सकते हैं.नई नई तकनिकी जानकारी,कंप्यूटर की जानकारी और मोबाइल की जानकारी के लिए HINDI ME BLOG को बुकमार्क और सब्सक्राइब करना मत भूलियेगा.

No comments

नई नई तकनिकी जानकारी,कंप्यूटर की जानकारी और मोबाइल की जानकारी के लिए HINDIME BLOG को बुकमार्क, सब्सक्राइब और निचे कमेन्ट करना मत भूलियेगा.